Home विषयमुद्दा गैंगेस्टर मुख़्तार अंसारी को 10 साल की सजा और 5 लाख जुर्माना

गैंगेस्टर मुख़्तार अंसारी को 10 साल की सजा और 5 लाख जुर्माना

by Praarabdh Desk
331 views

उत्तर प्रदेश के बांदा जेल में बंद बाहुबली नेता मुख्तार अंसारी को 16 साल पुराने गैंगस्टर मामले में ये सजा सुनाई गई. कोर्ट ने गुरुवार को ही उन्हें दोषी ठहराया था. मुख्तार के अलावा भीम सिंह को भी इस मामले में 10 साल की सजा सुनाई गई है. कोर्ट ने 12 दिसंबर को इस मामले में सुनवाई पूरी कर ली थी.उत्तर प्रदेश के बांदा जेल में बंद बाहुबली नेता और पूर्व विधायक मुख्तार अंसारी को गैंगस्टर एक्ट से जुड़े मामले में 10 साल की सजा सुनाई गई है. इसके साथ ही मुख्तार अंसारी पर 5 लाख का जुर्माना भी लगाया गया है. मुख्तार के अलावा भीम सिंह को भी 10 साल की सजा सुनाई गई है. गाजीपुर गैंगस्टर कोर्ट ने ये फैसला सुनाया.

इससे पहले गुरुवार को ही गैंगस्टर कोर्ट ने मुख्तार अंसारी और उनके सहयोगी भीम सिंह को भी दोषी करार दिया गया. सजा सुनाए जाने के दौरान भीम सिंह कोर्ट में पेश हुए. जबकि मुख्तार अंसारी को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए पेश किया गया. इस मामले में पिछले दिनों ही बहस पूरी हुई थी.

मुख्तार और उसके साथियों ने तीन अगस्त, 1991 में बनारस में पूर्व विधायक अजय राय के भाई अवधेश राय की हत्या कर दी थी। इसके बाद इसी मामले की विवेचना के दौरान 1996 में गाजीपुर की पुलिस ने गैंगस्टर का मुकदमा दर्ज किया था।

गाजीपुर जिले के एक मुकदमे में गुरुवार को माफिया मुख्तार की पेशी ईडी कार्यालय में वीडियो कान्फ्रेंसिंग के जरिए कराई गई। अदालत मुख्तार के मुकदमे में फैसला सुनाया गया है। वीडियो कान्फ्रेंसिंग के लिए बुधवार को ही जरूरी इंतजाम ईडी कार्यालय में किया गया था। माफिया मुख्तार के खिलाफ यूपी, दिल्ली, पंजाब के विभिन्न थानों में 40 से अधिक मुकदमे दर्ज हैं। मुख्तार को पंजाब से बांदा जेल में ट्रांसफर किए जाने के बाद ईडी ने उसके परिवार पर भी शिकंजा कसा है।

बाहुबली माफिया मुख्तार अंसारी आगामी नौ दिनों तक प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) की कस्टडी में रहेगा। कस्टडी रिमांड की अर्जी पर सुनवाई करते हुए जिला जज संतोष राय ने अभियुक्त को 14 दिसंबर दोपहर एक बजे से लेकर 23 दिसंबर की दोपहर दो बजे तक ईडी को कस्टडी में रखने का आदेश दिया है। अदालत ने यह भी कहा कि हिरासत अवधि समाप्त होने पर न्यायिक अभिरक्षा के समय मेडिकल परीक्षण कराया जाए। कस्टडी रिमांड मिलने के बाद कड़ी सुरक्षा के बीच माफिया मुख्तार को ईडी कार्यालय ले जाकर पूछताछ शुरू की गई। इसी मामले में मुख्तार का बेटा विधायक अब्बास व साला आतिफ रजा भी जेल में बंद हैं।

मनी लॉन्ड्रिंग मामले में कस्टडी रिमांड पर लिए गए माफिया मुख्तार अंसारी से ईडी ने उसकी पत्नी अफ्शा अंसारी के बारे में पूछताछ की। बृहस्पतिवार को उससे पूछा गया कि अफ्शा अंसारी कहां है, कितने दिन पहले अफ्शा से बात हुई। इन सारे सवालों के जवाब में मुख्तार ने कहा कि वह नहीं जानता। विकास कंस्ट्रक्शन में लेन-देन से लेकर बेनामी संपत्तियों के बारे में भी मुख्तार से पूछताछ होती रही।

ईडी ने अक्तूबर में जालौन व गाजीपुर स्थित करोड़ों की सात संपत्तियों को अटैच किया था। इनमें से कुछ संपत्तियां मुख्तार की पत्नी के नाम पर भी थीं। इन्हीं सब संपत्तियों के बारे में मुख्तार से पूछा गया। विकास कंस्ट्रक्शन में मुख्तार की पत्नी, ससुराल वाले तथा करीबियों को हुए करोड़ों के ट्रांजैक्शन के बारे में भी पूछा गया। ईडी के सिविल लाइंस स्थित दफ्तर में मुख्तार से सुबह से ही पूछताछ शुरू हो गई थी। ईडी ने पहले से ही मुख्तार के लिए सवालों की सूची तैयार कर रखी थी। मुख्तार से अब्बास अंसारी और शरजील रजा उर्फ आतिफ से मिली जानकारियों के आधार पर सवाल पूछे गए।

पूर्वांचल के कई जिलों में मुख्तार के करीबियों में अरबों की संपत्ति खड़ी की है। माना जा रहा है कि सारी संपत्तियां कहीं न कहीं मुख्तार की ही हैं। ईडी ने मुख्तार से खातों में करोड़ों की संपत्तियों के लेन-देन के बारे में भी सवाल किए। इसके अलावा हवाला से जुड़े कुछ मामलों में पूछताछ हुई। पत्नी अफ्शा अंसारी के खिलाफ ईडी ने लुकआउट नोटिस जारी किया है। अफ्शा से जुड़े हर सवाल के जवाब में मुख्तार ने कहा कि वह कुछ भी नहीं जानता। ईडी ने मुख्तार के बयान की वीडियो रिकार्डिंग भी कराई है।

विदेश यात्रा के बारे में सवाल 
ईडी ने मुख्तार की अब तक की सभी विदेश यात्राओं के बारे में पूछताछ की। वह विदेश में क्या करने गया था, किससे मिला, क्या वहां लेन देन किया, इन सब बातों के बारे में ईडी ने मुख्तार से सवाल किए।

पूछताछ में नहीं कर रहा सहयोग, अधिकांश बातों का जवाब न में दिया
मुख्तार अंसारी ने बृहस्पतिवार को ईडी की पूछताछ में कोई सहयोग नहीं दिया। अधिकांश बातों का जवाब उसने न में दिया। तमाम प्रश्नों पर उसने कहा कि वह काफी समय से जेल में है। बाहर क्या हो रहा है, वह कुछ नहीं जानता। अफ्शा से जुड़े सवालों पर उसने मुस्कुराकर कहा कि वह कैसे बता सकता है कि वो कहां हैं।

Related Articles

Leave a Comment