Home चलचित्र आदिपुरुष बनाम कश्मीर फ़ाइल्स

आदिपुरुष बनाम कश्मीर फ़ाइल्स

by Nitin Tripathi
159 views
कश्मीर के बारे में काफ़ी कुछ पढ़ रखा था, बहुत कुछ लिखा भी है. आर्टिकल 370 हटाने के ढेरों सेमिनार भी अटेंड किए.
लेकिन कश्मीर फ़ाइल्स मूवी देखी तो कश्मीर से एक लगाव सा हो गया. डल झील, खीर भवानी, शंकराचार्य मंदिर सब सुने सुने लगते हैं. पहले कश्मीर से नफ़रत थी, अब कश्मीर अपनी लीगेसी का वो हिस्सा लगता है जिसे छोड़ेंगे नहीं.
आधुनिक युग में जागरूकता फैलाने का सबसे सशक्त माध्यम फ़िल्में ही हैं. सदैव क्षोभ होता था, हमारे इतिहास में रामायण, महाभारत जैसी महान सुपर हीरो स्टोरीज़ हैं. जिन पर लार्जर than लाइफ फ़िल्म बन सकती है. पर दुर्भाग्य रहा कि रजिया सुल्तान और मुग़ले आज़म तो बनी पर हिंदुस्तान के पौराणिक इतिहास पर ढंग की फ़िल्मों का अभाव है.
आदि पुरुष आ रही है. आरंभ में पोस्टर देख मेरे भी थोड़े अप्रहंसन रहे. लेकिन एक बार बड़े पर्दे पर ट्रेलर देखा, सारे पूर्वाग्रह मिट गये. मूँछों वाले राम को देखने की आदत न थी, एक बार आँखें एडजस्ट हुईं तो श्री राम के रूप में प्रभाष पूरी तरह से रामोचित गुणों से परिपूर्ण दिखे. कृति सेनन का तो अब शायद कैरियर समाप्त हो जाये क्योंकि सीता के रूप में वह साक्षात देवी लगीं. उन्हें किसी अन्य रूप में शायद अब दर्शक स्वीकार न कर पाएँ.
और गाने फ़िल्म के तो दिल दिमाग़ में छा गये हैं. जय श्री राम, शिवोहम, राम सिया राम जैसे गाने तो अब भजन के रूप में घर में बजते हैं.
तैयार रहिए 16 जून से पूरे भारत में जय श्री राम गूंजने वाला है.

Related Articles

Leave a Comment