Home नया लखनऊ सहित पूरे उत्तर प्रदेश में बारिश ने बरपाया कहर , 27 की मौत

लखनऊ सहित पूरे उत्तर प्रदेश में बारिश ने बरपाया कहर , 27 की मौत

by Praarabdh Desk
77 views

उत्तर प्रदेश में पिछले 24 घंटों में बारिश से संबंधित घटनाओं  में 27 लोगों की मौत हो गई है. यह बात राज्य राहत आयुक्त कार्यालय ने सोमवार की शाम में कही है. इसमें कहा गया कि चार की मौत बिजली गिरने से और दो की डूबने से हुई. राज्य राहत आयुक्त कार्यालय के बयान में कहा गया है कि हरदोई में चार, बाराबंकी में तीन, प्रतापगढ़ और कन्नौज में दो-दो और अमेठी, देवरिया, जालौन, कानपुर, उन्नाव, संभल, रामपुर और मुजफ्फरनगर जिलों में एक-एक मौत की सूचना मिली है. रविवार से उत्तर प्रदेश, विशेषकर राज्य के मध्य भाग में लगातार बारिश से सामान्य जनजीवन प्रभावित हुआ है.

14 सितंबर तक भारी बारिश होने की संभावना

राहत आयुक्त कार्यालय के अधिकारी ने बताया कि मौसम विभाग के पूर्वानुमान के मुताबिक पूर्वी क्षेत्र में 14 सितंबर तक भारी बारिश होने की संभावना है जबकि 17 सितंबर तक हल्की बारिश जारी रहेगी.  पिछले 24 घंटों में सोमवार सुबह 8 बजे तक 99.9 मिमी बारिश दर्ज की गई है. राज्य के पश्चिमी क्षेत्र में भी 17 सितंबर तक बारिश और बौछारें पड़ने की संभावना है, हालांकि 15 सितंबर तक राज्य में बिजली गिरने का अलर्ट है.

24 घंटों में लगातार बारिश, जनजीवन प्रभावित हुआ

उत्तर प्रदेश में पिछले 24 घंटों में लगातार बारिश से सामान्य जनजीवन प्रभावित हुआ है, विशेषकर राज्य के मध्य भाग में, कुछ स्थानों पर स्कूल एक दिन के लिए बंद कर दिए गए हैं. पिछले 24 घंटे में प्रदेश के 22 जिलों में 40 मिमी से अधिक बारिश हुई है, जिनमें मुरादाबाद, संभल, कन्नौज, रामपुर, हाथरस, बाराबंकी, कासगंज, बिजनौर, अमरोहा, बहराईच, लखनऊ, बदांयू, मैनपुरी, हरदोई, फिरोजाबाद, बरेली, शाहजहाँपुर, कानपुर, सीतापुर फर्रुखाबाद, लखीमपुर खीरी और फ़तेहपुर शामिल हैं.

मुख्यमंत्री योगी ने पूरी तत्परता से राहत कार्य चलाने के निर्देश दिये

एक सरकारी प्रवक्ता के मुताबिक मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रभावित जिलों के अधिकारियों को पूरी तत्परता से राहत कार्य चलाने के निर्देश दिये हैं. अधिकारियों को इलाकों का दौरा करने और राहत कार्यों पर नजर रखने को कहा है और आपदा से प्रभावित लोगों को तुरंत अनुमेय राहत राशि वितरित करने को कहा है.

10 जिलों की 19 तहसीलें बाढ़ से प्रभावित हुई

राहत आयुक्त कार्यालय के अधिकारी ने बताया कि बलिया, बाराबंकी, बदांयू, फर्रुखाबाद, कासगंज, खीरी, कुशीनगर, मऊ, मेरठ और मुजफ्फरनगर जिलों समेत 10 जिलों की 19 तहसीलें बाढ़ से प्रभावित हुई हैं. अधिकारी के मुताबिक, 173 गांव और 55,982 की आबादी प्रभावित हुई है.

, आश्रय गृह स्थापित किए गए

अधिकारी ने कहा, आश्रय गृह स्थापित किए गए हैं लेकिन किसी को वहां स्थानांतरित नहीं किया गया है और एनडीआरएफ और एसडीआरएफ की टीमों को कुछ जिलों में तैनात किया गया है और उन्हें हाई अलर्ट पर रखा गया है. अधिकारी ने कहा, लंच पैकेट और खाद्यान्न वितरित किए जा रहे हैं और जानवरों का टीकाकरण और चिकित्सा शिविर कार्यरत हैं.

 

written by : praarabdh e magazine 

Related Articles

Leave a Comment