Home नया अयोध्या , से सरयू के किनारे ,आरिफ आजकीया की सनातन को जानने के लिए पुष्कर अवस्थी के साथ महा-यात्रा

अयोध्या , से सरयू के किनारे ,आरिफ आजकीया की सनातन को जानने के लिए पुष्कर अवस्थी के साथ महा-यात्रा

235 views
अयोध्या , से सरयू के किनारे ,आरिफ आजकीया की सनातन को जानने के लिए पुष्कर अवस्थी के साथ महा-यात्रा
पाकिस्तान मूल के विख्यात यूट्यूबर और मानवतावादी Arif Aajakia, जो एक समय कराची के जमशेदनगर टाउन के मेयर रह चुके है और अब पाकिस्तानी सेना की प्रताड़ना से सुरक्षित रहने के लिए इंग्लैंड में रह रहे है, पिछले दिनों भारत यात्रा पर आए हुए थे। मुझे वा मेरे मित्रो को उनकी उत्तरप्रदेश की यात्रा पर उनका आतिथेय करने सहयात्री होने का सौभाग्य प्राप्त हुआ है। आरिफ भाई, उन मुसलमानो में से है जिनके लिए भारत एक राजनैतिक भूभाग नही है बल्कि यह उनके सनातन को समझने वा उसको अंगीकृत करने का तीर्थस्थल है। आरिफ अज़ाकिया से मेरा परिचय 2019 से यूट्यूब के मंच पर हुआ और धीरे धीरे वह एक संवाद की निरंतरता में परिवर्तित हो गया।
उनसे बीच बीच में फोन पर भी वार्ता हुई उसी एक वार्ता में मैने उनसे एक वचन लिया की जब भी वे भारत की यात्रा में आयेंगे वे मुझसे अवश्य मिलेंगे। यह वचन उन्हे याद था और जिस दिन वे लंदन से दिल्ली की फ्लाइट पकड़ने जारहे थे, उन्होंने मुझे अपनी इस यात्रा के बारे में बता दिया था। उसी समय यह भी हम दोनो के बीच तय होगया था की वे मेरे और मेरे मित्रो के साथ उन स्थानों पर जायेंगे, जो वो देखना चाहते है।
मैने उनको Awanish P. N. Sharma के साथ दिल्ली से लिया और उनकी इच्छा अनुसार सबसे पहले वृंदावन में बांके बिहारी वा मथुरा में श्रीकृष्ण जन्मभूमि गए। वहां पर दर्शन किए शीश नवाए और फिर आगरा में भाई Anand Sharma के यहां भोजन कर के लखनऊ आगए। लखनऊ में अनुज संदीप सिंह और जालंधर से भागे चले आए Ajit Singh भी जुड़ गए। अगले दिन आरिफ भाई के साथ अयोध्या की यात्रा की और हनुमानगढ़ी वा राम लला के दर्शन किए। इसके बाद सरयू तट पर पूरी तरह राममय हुए।
पूरी यात्रा भर आरिफ भाई से सनातन धर्म, हिंदुत्व, पाकिस्तान और भारत पर घंटो अंतरंग बाते हुई और उसमे से कुछ आप लोगो के लिए रिकॉर्ड भी किया। अयोध्या में, वहीं सरयू तट पर आरिफ भाई से उनकी अपनी सनातनी यात्रा पर बाते हुई और बाद में पाकिस्तान में पाकिस्तानी शासकों द्वारा वहां के बलूचियों, पख्तून, सिंधियो वा मुजाहिर पर किए जा रहे अत्याचार के कारणों वा उसके भविष्य पर विस्तार से वार्ता हुई जिसे आपके लिए प्रस्तुत कर रहा हूं।

Related Articles

Leave a Comment