Home राजनीति बात लगभग 40 साल पुरानी है | प्रारब्ध

बात लगभग 40 साल पुरानी है | प्रारब्ध

लेखक- अजित सिंह

by Ajit Singh
239 views
बहुत पुरानी बात है ।
लगभग 40 साल ।
स्कूल में एक नये गुरु जी आये ।
पर्सलांटि से कोई बहुत पहलवान नुमा , रोबीले , खूंखार दबंग type नही थे ।
Rather , देखने मे बड़े गरीब से , दीन हीन से थे , छोटे से , दुबले पतले से ।
और Joining के पहले ही दिन उन्ने assembly में एक दबंग किस्म के लौंडे को पटक के चार केहुनी लिया ….. बल भर मारे ।
मने उस लौंडे की कोई गलती नही थी ।
ऊ बेचारा तो सिर्फ इसलिये पिटा गया कि ऊ शरीर से हृष्ट पुष्ट ठीक ठाक सा था ।
गुरु जी उस लौंडे को बल भर मारे , और पूरा स्कूल देखता रहा ।
गुरु जी का एकमात्र उद्देश्य , स्कूल के सभी लौंडों पे रोब ग़ालिब करना मात्र था ।
और उसमें वो पूरी तरह क़ामयाब रहे । जब तक स्कूल में रहे , किसी की क्या मजाल जो उनके सामने चूं कर जाए ।
मने पूरे स्कूल में क़ानून बेवस्था डिसिप्लीन उन्हीं के जिम्मे था ।
UP में ईद का त्योहार सकुशल बीत गया ।
लौड़ स्पीकर भी उतर गए ।
सड़क पे नमाज़ भी नही हुई ।
उधर राजस्थान में ऐसी जवानी छछाई है कि जोबन कुर्ते में समा नही रहा । कुर्ता फाड़ के बाहर आने को है ।
UP अगले 5 साल में प्रेम और सौहार्द्र की मिसाल बन जायेगा ।
तरक्की की मिसाल बन जायेगा ।
भेड़िये सब शुद्ध शाकाहारी हो जाएंगे ।
लहसुन पियाज तक छोड़ देंगे ।
शेष भारत चिल्ला चिल्ला के कहेगा , हमको भी दे दो कोई जोगी बाबा ।
बाबा ने बड़ी लकीर खींच दी है ।
बाकी सब अपने आप छोटी हो जाएंगी ।

Related Articles

Leave a Comment