Home राजनीति राज ठाकरे की पार्टी मजबूत बने।

राज ठाकरे की पार्टी मजबूत बने।

474 views
महाराष्ट्र में शिवसेना की सरकार गिरे या रहे, उससे ज्यादा मेरा ध्यान इस बात पर है कि राज ठाकरे की पार्टी मजबूत बने।
शिवसेना अगर टूटेगी, तो उससे निकलने वालों को मनसे में ही जाना चाहिए। उनमें से कोई नेता ऐसा नहीं है जो अपनी पार्टी बनाकर उसे बचा सके। कोई छोटी मोटी पार्टी बन भी गई, तो वह शरद पवार की कृपा के भरोसे ही चल सकती है।
अगर शिवसेना से टूटकर लोग कांग्रेस या राष्ट्रवादी कांग्रेस में ही जाएंगे, तो बेहतर है कि शिवसेना में ही पड़े रहें।
मैं नहीं चाहता कि ऐसे लोग भाजपा में आएं क्योंकि शिवसेना के कार्यकर्ताओं या नेताओं को संभालना भाजपा के बस की बात नहीं है। उन्हें मनसे में ही जाना चाहिए। शिवसेना का कुछ हो या न हो, पर मैं मन से चाहता हूं कि मनसे मजबूत बने।
ऐसा बिलकुल नहीं है कि मैं मनसे का समर्थक हूं या उसे पसंद भी करता हूं। लेकिन यह इसलिए आवश्यक है क्योंकि भाजपा में यह डर बना रहना चाहिए कि उसके वोट बैंक को छीन सकने वाली कोई और पार्टी सामने है।
अक्सर भाजपा चुनाव जीतने के बाद केवल इसी कारण अपने कार्यकर्ताओं, वोटरों और विचारधारा को उपेक्षा करती रहती है क्योंकि उसे पता है कि उसके मतदाताओं के पास कोई और विकल्प नहीं है।
जब हर राज्य में और धीरे धीरे केन्द्र में भी ऐसा कोई विकल्प दिखने लगेगा तो बहुसंख्यक मतदाताओं के पक्ष में राजनीति पूरी तरह झुक जाएगी और पार्टियों में बहुसंख्यक वर्ग को रिझाने की होड़ शुरू होगी।
भारत में कोई बड़ा परिवर्तन तभी आ सकता है, अन्यथा सबका विश्वास जीतने की होड़ में यही कहानी चलती रहेगी। सादर!

Related Articles

Leave a Comment