Home राजनीति आजम खान के पास कहां से आए पांच हजार करोड़? 22 बैंक खातों की छानबीन

आजम खान के पास कहां से आए पांच हजार करोड़? 22 बैंक खातों की छानबीन

by Praarabdh Desk
80 views

आयकर विभाग की छापेमारी से सपा महासचिव आजम खां बड़े संकट में पड़ सकते हैं। दरअसल विभाग को यूनिवर्सिटी बनाने में पांच हजार करोड़ रुपये खर्च होने की जानकारी मिली है। इतनी बड़ी रकम को कहां से लाया गया इसका जवाब तलाशने को ही जांच की जा रही है। आशंका है कि सरकारी धन को खर्च करने के साथ विदेशी फंड भी यूनिवर्सिटी बनाने में खपाया गया है। आयकर टीमों के हत्थे लगे रिकार्ड से बड़ा राज खुलने के आसार हैं।

मुरादाबाद के अलावा बरेली, आगरा, लखनऊ, मेरठ, बुलंदशहर व मुजफ्फरनगर आदि शहरों की आयकर टीमों ने एक साथ जांच शुरू की है। इसकी तैयारी कई महीने पहले से की गई थी। यूनिवर्सिटी के बारे में पूरा ब्योरा भी जुटाया गया है। विभाग का अपना आकलन है कि करीब पांच हजार करोड़ रुपये यूनिवर्सिटी में लगाए गए हैं।

आशंका है कि इसमें काफी रकम ऐसे लोगों की भी हो सकती हैं, सपा सरकार में जिनके महत्वपूर्ण काम कराए गए होंगे। एक टीम ने आजम खां व उसके करीबी लोगों के 22 बैंक खातों की जांच की है। खातों में खास रकम नहीं मिली है, लेकिन लेन-देन से संबंधित रिकार्ड मिला है।

टीम ऐसे खातों को भी देख रही है, जिनमें लेनदेन बंद कर दिया गया हो। सूत्रों का कहना है कि आयकर टीम को रिकार्ड में काफी ब्योरा मिला है। कई ऐसे नाम भी मिले हैं, जिन्होंने मोटा दान दिया है। आयकर इनका भी रिकॉर्ड खंगाल सकती है।

टीम यह भी देख रही है कि आजम के पास 2007 में बसपा सरकार बनने से पहले कितनी संपत्ति थी, 2012 में सपा सरकार बनने के बाद कितनी संपत्ति रही। यूनिवर्सिटी के लिए धनराशि कहां से लाई गई। आयकर विभाग के अधिकारी यह भी जानने का प्रयास कर रहे हैं कि यदि विदेश से रकम आई है, तो किसने रुपये दिए और किस माध्यम से दिए हैं।

 

आयकर विभाग की छापेमारी के बाद आजम खान ने कहा मेरा दामन आज भी बेदाग है. आयकर वालों को मेरे यहाँ कुछ नहीं मिला, इसलिए वह हमें पंचनामा भर कर दे गए. उन सब का शुक्रिया. इसके साथ ही आजम खान ने समर्थको से कहा अपनी दुआएं जारी रखें क्योंकि जुल्म अभी जारी है. जब तक सहनशक्ति है आने वाली नस्लों के लिए कोशिश करता रहूंगा, यूनिवर्सिटी कमजोर वर्ग के लिए बनाई है.

आयकर विभाग की टीम ने सपा नेता आजम खान के घर पर 60 घंटे तक छापा मारकर कार्रवाई की और आजम खान के मोहम्मद अली जौहर ट्रस्ट और जौहर यूनिवर्सिटी से जुड़े फाइनेंशियल मामलों की जांच करने के बाद आयकर विभाग के अधिकारियों ने तो मीडिया को कोई जानकारी ऐसी नहीं दी जिससे पता चल सके कि इस छापे में आजम खान के यहां से क्या कुछ बरामद हुआ है. हालांक आयकर विभाग के अधिकारियों के चले जाने के बाद आजम खान ने मीडिया से

बात करते हुए कहा कि बुधवार के दिन सुबह फौजी की वर्दी में कुछ लोग दीवार कूद कर हमारे घर के अंदर आए और उन्होंने बताया कि हम आयकर विभाग से हैं और जो उनका तरीका होता है वह उन्होंने अपनाया. तीन दिन तक हमारे यहां वह लोग रहे और जो सवाल उन्हें करने थे उन्होंने हमसे किए और हमारे घर में मेरे बेटे अब्दुल्ला आजम और बड़े बेटे के कमरों की और हमारे कमरों की तलाशी ली.

अभी जुल्म जारी है- आजम खान

आजम खान ने कहा सभी अलमारियां सभी अटैचियां और जो कुछ भी वह तलाशना चाहते थे देखना चाहते थे वह उन्होंने किया. जो भी पेपर उन्हें दिखते थे वह उन्होंने देखे, उसमें काफी समय लगा अब हमारे लिए तकलीफ की बात यह है कि अब से 2 महीने पहले जो बारिश हुई थी उसमें हमारा सारा घर डूब गया था, हमारा बेड भी डूब गया था और बहुत सारा सामान डूब गया था. अब दोबारा फिर बारिश हुई तो फिर हमारे घर में 3 फीट के करीब पानी आ गया था. अभी सबको समेटने में कितना समय लगेगा लेकिन सब की दुआएं काम आई और मैं जानता हूं कि देश भर में लोग मुझसे हमदर्दी रखते हैं और हमारे लिए दुआएं करते हैं. इसलिए मैं उन से कहना चाहूंगा कि वह दुआएं अपनी जारी रखें क्योंकि अभी जुल्म जारी है.

Related Articles

Leave a Comment