Home आर ऐ -ऍम यादव ( राज्याध्यक्ष) क्या कोर्ट के फैसले को नहीं मानेगे मुसलमान

क्या कोर्ट के फैसले को नहीं मानेगे मुसलमान

आर ए एम देव

247 views

इस चर्चा के अंत तक आते आते मुश्ताक मलिक नाम के एक व्यक्ति जो इस चर्चा का हिस्सा है, आरोप लगाते हैं कि हिन्दू पक्ष बोल रहा है कि शिवाजी प्रकट हुए। यही बात अयोध्या मामले में काही जा रही थी कि रामलला प्रकट हुए, लेकिन वे प्रकट नहीं हुए थे बल्कि मूर्ति लाकर रखी गई थी जो कानून का उल्लंघन – violation – था।

 

एंकर सौरभ शुक्ल उसे पूछते हिन तो क्या यहाँ भी शिवलिंग ला कर रखा गया है ?
मुश्ताक मालिक पहले हाँ करने के मूड में दिखते हैं, फिर शायद उनको याद आता है कि एक तो शिवलिंग इतना बड़ा है कि लाकर रखने की चीज नहीं है, और दूसरी बात, एक पुराना विडिओ बाहर आया है
जो दिखा रहा है कि वो तो पहले से ही वहीं था। तो ये 1991 के कानून का राग अलापना शुरू करते हैं।

 

शक्ल सूरत से तो यह जनाब बाहरी नस्ल के नहीं लगते। यहीं के लगते हैं। यहाँ Dracula की कहानी याद आती है। कहानी में यह बाहरी पिशाच जिस भी अमेरिकन को डँसता है, वो व्यक्ति अपने ही भाईबंदों के खून का प्यासा बन जाता है।

 

वाकई इस दीन को देखता हूँ तो Dracula के स्पेलिंग में कुछ अक्षरों की कमी महसूस होती है।

Related Articles

Leave a Comment