Home राजनीति चुनाव के नतीजे आ चुके हैं

चुनाव के नतीजे आ चुके हैं

by Nitin Tripathi
99 views
चुनाव के नतीजे आ चुके हैं. सोसल मीडिया से परे यक़ीन मानिए भाजपा को जितनी सीट इस बार मिलीं वह अद्भुत हैं, अकल्पनीय हैं. बेस्ट केस सीनेरियो में भी ज़मीन पर प्रचार करने वालों में अधिकतर ने 250 मैक्सिमम ही सोंच रखी थीं. इस बार भाजपा हर वह सीट जीती जिसे वह जीत सकती थी. कुछ सीटें तो वह भी जीती जो 2017 तक में न जीती थी.
इस बार भी गठबंधन लगभग 275 सीटें जीत दो तिहाई बहुमत पाया है.
इस बार सबसे बड़ी समस्या भाजपा के लिए दो थीं. एक बसपा चुनाव से बाहर थी. दूसरा पिछली बार सपा कांग्रेस गठबंधन में सपा द्वारा कांग्रेस को दी सीटें तो सीधे भाजपा की झोली में डाल दी गई थीं.
बसपा के चुनाव लड़ने से मुस्लिम मतों में बँटवारा रहता था. प्रायः हर उस सीट पर जिस पर मुस्लिम होते थे बसपा मुस्लिम प्रत्याशी खड़ा करती थी और यह प्रत्याशी मुस्लिम वोट काटता था. इस बार दो कोणीय लड़ाई थी. मुस्लिम पूरी तरह से इकतरफ़ा सपा के साथ था.
आप हर वह सीट उठा लीजिए जिसे भाजपा पिछली बार जीती, इस बार हारी. यही समीकरण पाएँगे. बसपा से मुस्लिम मत पूरी तरह कट कर सपा में गया. पिछली बार के सपा प्लस बसपा वोट देख डालिए. इस बार बसपा को बहुत कम वोट मिले होंगे. बसपा का थोड़ा दलित वोट तो भाजपा को गया, पर फ़िर भी कुछ बेसिक कोर वोट बसपा पाई ही. मुस्लिम पूरा लामबंद था.
साथ ही भाजपा के कार्यकर्ताओं की उदासीनता, हिंदुत्व मुद्दे पर चुनाव न होना, चुनाव में हिंदू वोटों का बँटवारा, पूरे विपक्ष के ईको सिस्टम का अखिलेश के साथ खड़े हो जाना, सरकारी कर्मियों के एक वर्ग का खुले आम अखिलेश को समर्थन जैसी बड़ी समस्याएँ सामने थीं जो दिख रही थीं.
मैं स्वयं यही बोलता था सरकार आएगी सीटें कितनी होंगी राम जाने. क्योंकि पता था सीटें पिछली बार जितनी पाना असम्भव है. तब त्रिकोणीय फ़ाइट थी, इस बार वन ऑन वन है.
फ़िर भी भाजपा ने पिछली बार से ज़्यादा वोट प्रतिशत पाया. कुछ असम्भव सी दिख रही सीटों पर विजय पाई. UP चुनावों में जाति का मुद्दा काफ़ी हद तक समाप्त कर दिया, पैंतीस साल से जनता के दिमाग़ में चल रहा फ़ितूर कि हर बार सरकार बदलनी है समाप्त कर दिया.
यह अभूतपूर्व है. यदि आपने ज़मीन देखी है तो यक़ीन मानिए यह नए इलेक्टोरल युग का आरम्भ है कि अब वन ऑन वन की लड़ाई में भी भाजपा दो तिहाई बहुमत से जीतने लगी है.
भाजपा की UP चुनाव में यह सफलता अद्वितीय है

Related Articles

Leave a Comment