Home राजनीति यू पी में एंटी नारकोटिक्स टास्क फोर्स का गठन – नशे की सौदागरों की अब खैर नहीं

यू पी में एंटी नारकोटिक्स टास्क फोर्स का गठन – नशे की सौदागरों की अब खैर नहीं

by Sharad Kumar
54 views

हर साल जहरीली शराब पीने से हजारो या लाखो की तादात में लोगो की मौत हो जाती है पर यह शराब न तो बिकना बंद होती है न बनना जाने कितने घर बर्बाद हो गए इस तरह की शराब की लती लोगो से माँ को मार कर , स्त्री को बेच कर , बच्चियों का बलात्कार और ना जाने कितने आपराधिक मामले यूँ ही जन्म ले लेते है इस शराब के बनने से लेकर बिकने तक


अभी तक किसी भी सरकार ने इस शराब को बिकने के लिए कोई रोक नहीं लगायी पर बनने पर जरूर रोक लगी है लेकिन फिर भी चोरी छुपकर यह शराब बनती आयी है और शायद आगे भी बनती रहेगी बिहार में शराब पर रोक है लेकिन शायद आपको पता न हो सबसे ज्यादा शराब बिहार में ही पी जाती है और यह आती कहाँ से है तो जवाब सिंपल है लोग इसे गैस सिलेंडर में लाते है

सिलेंडर के नीचे की प्लेट को काट कर उसमे बोतले भरी जाती है फिर वो प्लेट दोबारा फिक्स कर दी जाती है और जो पकडे भी गए तो कुछ पैसे देकर छूट जाते है आप सोच रहे होंगे की आज शराब के ऊपर इतना लेक्चर क्यों दे रहा हूँ तो बात दर असल यह है की आज योगी सरकार ने ड्रग माफियाओ को पकड़ने के लिए उत्तर प्रदेश में एक टीम गठित की है

इस टीम का नाम एंटी नारकोटिक्स टास्क फाॅर्स दिया है इस टास्क फोर्स का काम प्रदेश में बन रही अवैध नशीली मादक पदार्थो को बनने से रोकने का है इस टीम में पुलिस अधीक्षक और उप पुलिस अधीक्षक के लोग शामिल होंगे जो की नारकोटिक्स डिपार्टमेंट के ही होंगे शुरुआत बाराबंकी और गाजीपुर से की जाएगी और मुख्यमंत्री जी ने कहा है की जो लोग आपराधिक रिकॉर्ड में है

उनके पोस्टर सार्वजनिक कर दिए जाए योगी आदित्यनाथ का यह काम वाकई में सराहनीये है लेकिन जिस तरह की टीम गठित की गयी है क्या वो टीम पूरी ईमानदारी से अपना काम करेगी इस बात में थोड़ा संदेह जरूर है पर अगर सही से कदम उठेगा तो प्रदेश जरूर सवारेगा और कई अपराध पर उन ही लगाम लग जाएगी

Related Articles

Leave a Comment