Home लेखक और लेखरंजय त्रिपाठी हिन्दूओ के मठाधीश, शंकराचार्य, ………

हिन्दूओ के मठाधीश, शंकराचार्य, ………

836 views
हिन्दूओ के मठाधीश, शंकराचार्य, धर्माचार्य आदि आदि आदि इस डर से आत्महत्या कर रहे हैं कि किसी महिला के साथ उनकी आपत्तिजनक तस्वीर या वीडियो उनका शिष्य वायरल कर देगा … शिष्य उस तस्वीर/वीडियो के दम पर अपने गुरु से सम्पत्ति और मठाधीशी मांग रहा है … इन सबको लोग धर्म ध्वज के रक्षक रूप में जानते हैं और ये लोग तस्वीर – वीडियो वायरल करने, ब्लैकमेलिंग का खेल खेलते हैं …
.
फेसबुक पे जनता पगलाए पड़ी है कि मिशनरी थोक में लोगों का धर्मान्तरण कराए जा रहे हैं …
.
आप लोगों ने नाम सुमा होगा राजा दिलीप सिंह जूदेव का …. आप छत्तीसगढ़ में मतान्तरण के विरोध में बहुत बड़ा कारक थे .. आपने हालेलूईया के चेलुइया बने लाखों आदिवासियों का घर वापसी कराया था… इसके लिए वो अपने पास से बहुत धन भी खर्च करते थे … फिर उन्होंने एक बहुत बड़े मठाधीश से बात किया, हिन्दू धर्म के प्रसार और मतांतरण को रोकने, मतान्तरित लोगों के घर वापसी के लिए इनको आगे बढ़कर काम करने को कहा … मठाधीश जी को इन्होने जगह जगह मिलाकर 1800 एकड़ जमीन दिया .. आश्रम बनाने और कार्यक्रम चलाने के लिए धन उपलब्ध कराया …
.
जब राजा जूदेव अकेले काम कर रहे थे अपने ग्रुप के साथ तो ठीक था … हेलेलूईया मुख्यमंत्री उनका कुछ न बिगाड़ पा रहा था … लेकिन मठाधीश को बुलाते ही सारा मामला खराब हो गया … मठाधीश जी को अरबों की जमीन, धन आदि सब मिल गया तो वो जाके मुख्यमंत्री से गलबहिया करने लगे … ईसाई पास्टर से ही इनकी दोस्ती ठन गयी …. अरबों लुटा देने वाले राजा दिलीप सिंह जूदेव को पचास हजार रिश्वत लेने के मामले में फंसा दिया गया …
.
मठाधीश जी ने अपना अलग काशी विश्वनाथ मंदिर बना रखा है क्योंकि प्रमुख मंदिर में हिन्दुओं के निम्न जातियों का प्रवेश उनको बर्दास्त नहीं …. इधर जब KV corridor बनने लगा तो मठाधीश के चेले जी जो कि बनारस में जीवित एकमात्र सेक्युलर मौलाना अब्दुल मतीन मोमानी के ख़ास दोस्त हैं उन्होंने काम उलझाने के लिए एक याचिका न्यायलय में डाल दिया … जिसे लोगों ने 30 वर्षों तक बाबा के मंदिर के तरफ कोई रुचि लेते नदेखा नहीं, अचानक से उनको पीड़ा उभर आया और वो न्यायालय चले गए … विश्व में एक मात्र सेकुलरिज्म के ठेकेदार अब्दुल मतीन मोमानी से दोस्ती निभाने को मठाधीश के चेले ने अपने छर्रों को आगे करके पहले न सिर्फ KV Corridor के विरोध अनेकों भ्रामक खबरें पलांट करवाया बल्कि इसपे हंगामा भी काटा और कटवाया …. जो आज भी अनवरत जारी है ….
.
ये छर्रे आजकल लोगों को हिन्दूद्रोही … धर्मद्रोही … हिन्दू विरोधी होने का प्रमाणपत्र भी बाँट रहे हैं …. आप बस काशी के किसी भी प्रगति के काम का बात करिये आपके हिन्दू होने का प्रमाणपत्र ये लोग कैंसिल कर देंगे ….
.
यही सब चल रहा है हिन्दू लोगों के मठाधीशों में …
.
हेलेलूईया वाले सरपट आगे भाग के रगड़ न डालें तो और क्या, खुला मैदान तो इन्होने ही दे रखा है …

Related Articles

Leave a Comment