Home विषययात्रा छुट्टियों में बहुत से लोग पहाड़ों पे जा रहे हैं छुट्टियां मनाने

छुट्टियों में बहुत से लोग पहाड़ों पे जा रहे हैं छुट्टियां मनाने

by Ajit Singh
633 views
छुट्टियों के season में बहुत से लोग पहाड़ों पे जा रहे हैं छुट्टियां मनाने ।
लाहौल स्पीति और लेह लद्दाख रीजन में भी बहुत से पर्यटक सैलानी आ रहे हैं या आने की प्लानिंग बना रहे हैं ।
कुछ लोग जो थोड़ा Adventure Tourism करना चाहते हैं वो दुर्गम स्थलों पे जाते हैं ।
यूँ तो आज से कोई 4 – 5 साल पहले मनाली से लेह तक कि यात्रा ही बड़ी दुर्गम मानी जाती थी , क्योंकि एक तो ये रास्ता बहुत ऊंचे Passes से हो के गुज़रता है दूसरे पुराने ज़माने में इस सड़क पे बड़ी खतरनाक Water Crossings हुआ करती थीं । Congress की सरकारों में इस सड़क को जानबूझकर ऐसा छोड़ा गया था क्योंकि तत्कालीन सरकार को डर था कि शानदार चिकनी सड़क बना देंगे तो भी उसका उपयोग तो China की सेना ही करेगी और उस चिकनी सड़क पे दिल्ली तक दौड़ती चली आएगी ।
ऐसा एक बयान खुद रक्षामंत्री AK Antony ने संसद में दिया था ।
बहरहाल मोदी सरकार में फिजां बदली और सरकार ने धुर China Border तक शानदार सड़कें बना दी हैं ।
अब तो Siachin base camp और दौलत बेग ओल्डी तक 300km लंबी शानदार दो लेन की चिकनी सड़क है । पहले जो फौजी ट्रक रसद , ammunition ले के 3 दिन में दौलत बेग ओल्डी पहुंचते थे वो अब सिर्फ 8 घंटे में पहुंच जाते हैं ।
इसी तरह आज लेह मनाली Road भी शानदार चिकनी 2 lane road है जिसपे 1 भी Water Crossing नही है ।
इसलिये अब मनाली लेह रुट पे यात्रा करना कोई खास रोमांचक नही रहा । अब नये Routes पे लोगों ने जाना शुरू किया है ।
जैसे Zanskar Valley , Sach Pass , Umlingla Pass इत्यादि ।
ऐसे Routes पे अक्सर बताया जाता है कि रास्ता OffRoad है अर्थात चिकनी समतल सड़क नही है ।
पर ये ध्यान रखिये कि Offroad भी कई किस्म की होती है ।
1. धूल मिट्टी रेत बजरी वाली समतल सीधी off Road …… ये आपको Zanskar Valley में मिलेंगी …… इन सड़कों पे आप 1 घंटे में औसतन 30 – 35 km की दूरी कवर करते हैं ।
2. पथरीले Offroad जिनपे Water Crossings नहीं हैं . इनपे आप 1 घंटे में औसतन 20 – 22 km की दूरी तय करते हैं । ऐसी सड़क आपको Sach Pass किल्लाड उदयपुर रुट पे मिलेगी ।
3. पथरीली सड़क जिनपे बहुत सी Water Crossings हैं …… ऐसी सड़कों पे आप 1 घंटे में औसतन 12 – 15 km की दूरी तय करते हैं । ऐसी 80km सड़क आपको Spiti Valley में काज़ा से मनाली जाते हुए मिलेगी जिसे पार करने में आपको 6 से 8 घंटे लगेंगे ।
पथरीली सड़क में भी दो केटेगरी है । छोटे छोटे पत्थर या फिर बड़े बड़े पत्थर । इस रूट पे आपको बड़े पत्थर और खूब तेज बहते ग्लेशियर के बर्फीले पानी वाली water crossings मिलेंगी ।
Water Crossings में भी ये देखना होगा कि आप किस समय cross कर रहे हैं । जैसे सुबह के समय नदी नाले में पानी कम होगा और शाम 3 बजे पूरे प्रवाह से नदी बह रही होगी ।
4. ऐसे Off Roads जो किसी बहुत ऊंचे दर्रे pass से गुज़र रहे …… ये Passes 11000 फ़ीट से ले के 19000 फ़ीट तक ऊंचे होते हैं । इतनी ऊंचाई पे आपकी गाड़ी के इंजन की ताकत एक तिहाई रह जाती है । मुझे याद है मनाली रुट पे Tanglang La pass cross करते हुए मेरी 500 cc Bike Full Throttle पे भी बमुश्किल 40 kmph की स्पीड से चल रही थी जबकि वो चिकनी सड़क थी …… ऐसी सड़क पे मेरी bike 90 की स्पीड से दौड़ती है ।
5. इसके अलावा आपको बहुत से passes / Roads पे Black Ice भी मिलती है जिसके कारण आपको बहुत धीमे गाड़ी चलानी पड़ती है । मुझे याद है , एक बार जनवरी माह में शिमला से नारकंडा पहुंचने में हमको 6 घंटे लगे थे , इतनी Black Ice थी सड़क पे …… कई Riders तो 5 – 7 बार सड़क पे फिसल के गिरे ।
इन सभी Factors को ध्यान में रखते हुए अपनी यात्रा की planning कीजिये ।

Related Articles

Leave a Comment