Home मीडिया बुराड़ी में हो रहे एक कार्यक्रम में

बुराड़ी में हो रहे एक कार्यक्रम में

by Ashish Kumar Anshu
134 views

बुराड़ी में हो रहे एक कार्यक्रम में कुछ बिना बुलाए लड़कों को लोगों ने धकिया दिया। पता चला कि ये लड़के अलग अलग यू ट्यूब चैनलों और प्रोपगेन्डा वेबसाइट से ताल्लुक रखते थे और गलत इरादे से कार्यक्रम में घुसे थे। उन्हें आयोजकों की तरफ से बुलाया नहीं गया था। वे बिना बुलाए पहुंचे थे। फिर भी इन्हें धकियाया नहीं जाना चाहिए था लेकिन इन्हीं धकियाए गए लड़कों की वेबसाइट्स ने शाहीन बाग में जब जी न्यूज और रिपब्लिक के पत्रकारों के साथ अभद्रता हुई तो उसे सेलीब्रेट किया था।

 

निष्पक्ष पत्रकारों को रिपोर्टिंग के लिए शाहीन बाग में दाखिल नहीं होने देने की शुरूआत सीएए प्रोटेस्ट के दौरान हुई थी। शाहीन बाग में वायर, एनडीटीवी जैसे तमाम एक खास इको सिस्टम जुड़े लोगों की वीआईपी एंट्री थी। जी न्यूज और रिपब्लिक के पत्रकारों को वहां हूट किया गया क्योंकि वे आंदोलन की आलोचना में बोल रहे थे। लिख रहे थे।

 

मतलब साफ है कि अब हर कोई उन्हें ही अपने कार्यक्रम टॉलरेट करेगा, जो ‘शाहीन बाग’ के लिए ‘एनडीटीवी’ होगा। मतलब चम्मचई में रिपोर्टिंग कीजिए और प्रवेश पाइए। यदि आपने आंदोलन पर सवाल उठाया तो आपको जी न्यूज बना दिया जाएगा। शाहीन बाग को लेकर जितने नैरेटिव गढ़े गए, याद कीजिएगा। उन सारे नैरेटिव का आईटी सेल एनडीटीवी ही था।

 

जब यह परंपरा प्रोपगेंडा वेबसाइट और चैनलों ने प्रारंभ की है फिर आज जब उनकी असहिष्णुता की आंच उनके ही दामन तक पहुंची है तो वे इतना परेशान क्यों हो रहे हैं? एक बार अपने गिरेबान में क्यों नहीं झांक लेते?

Related Articles

Leave a Comment