Home राजनीति शरद पवार 2024 तक रहेंगे अध्यक्ष, एनसीपी ने किया इस्तीफा नामंजूर

शरद पवार 2024 तक रहेंगे अध्यक्ष, एनसीपी ने किया इस्तीफा नामंजूर

by Praarabdh Desk
131 views

महाराष्ट्र की राजनीति में हो रहे उठापटक के बीच बड़ी खबर सामने आ रही है। दिग्गज नेता शरद पवार राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) के अध्यक्ष बने रहेंगे। NCP कमेटी ने ये फैसला लिया है शरद पवार 2024 तक अध्यक्ष बने रहेंगे। NCP अध्यक्ष पद को लेकर घमासान के बीच एनसीपी कमिटी ने शरद पवार का इस्तीफा सर्वसम्मति से नामंजूर किया और पवार अध्यक्ष बने इस प्रस्ताव को पारित किया। इस दौरान दफ्तर के बाहर पवार के समर्थकों ने जमकर नारेबाजी की। इस वक्त एनसीपी नेता प्रफुल्ल पटेल प्रेस कॉन्फ्रेंस कर रहे हैं।

प्रफुल्ल पटेल का बयान

  • शरद पवार ने उनकी जीवनी पर बनी पुस्तक विमोचन के समय कहा था कि वह राष्ट्रीय अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे रहे हैं।
  • नए अध्यक्ष चुनने के लिए शरद पवार ने एक कमिटी के गठन किया था, जिस कमिटी में मैं भी हूं,जैसे ही पवार साहब ने इस्तीफे के बात की हम सब स्तब्ध रह गए।
  • कई पक्षों में राजनेताओं ने मुलाकात की और कई लोगों ने पवार साहब से बात की और कहा की जिस तरह के हालात देश मे हैं,ऐसे माहौल में पूरे देश की नजर आपपर है, आपकी बहुत जरूरत है देश को, आपको इस्तीफा वापस लेना चाहिए।
  • उस दिन भी वहां सभी ने अपनी भावना रखी, उस कायर्क्रम के बाद कई वरिष्ठ नेताओं ने पवार साहब से मिलकर लगातार विनती की कि आज देश को और पार्टी को आप की जरूरत है।
  • शरद पवार एक अनुभवी नेता है और यह देश मे सभी जगह दिखाई दे रहा है। पंजाब हम गए थे उस दौरान कई लोगों ने कहा कि पंजाब यह नही भूल सकता है जो आपने किसानों के लिए किया है ऐसे कई जगहों पर होता है।

शरद पवार के NCP के अध्यक्ष पद से इस्तीफे के ऐलान के बाद से ही पार्टी के कार्यकर्ता उनसे ये फैसला वापस लेने की लगातार मांग कर रहे हैं। इसी कड़ी में शरद पवार गुरुवार के दिन आंदोलन कर रहे कार्यकर्ताओं के बीच बात करने पहुंचे थे। इस दौरान उन्होंने कहा था कि मैं आप सभी की इच्छा को नजरअंदाज नहीं करूंगा और उसी के मुताबिक फैसला लूंगा। इस्तीफा देने के बाद शरद पवार के सुर बदले बदले नजर आ रहे थे। गुरुवार को वाय बी सेंटर की सीढ़ियों पर शरद पवार के समर्थक आंदोलन कर रहे थे। इस दौरान वे नारेबाजी कर रहे थे और शरद पवार को राष्ट्रीय अध्यक्ष पद पर बने रहने की मांग कर रहे थे।

Related Articles

Leave a Comment