Home नया त्र्यंबकेश्वर में मुस्लिम युवकों ने की चादर चढ़ाने की कोशिश, हिंदुओं ने किया शुद्धिकरण

त्र्यंबकेश्वर में मुस्लिम युवकों ने की चादर चढ़ाने की कोशिश, हिंदुओं ने किया शुद्धिकरण

by Praarabdh Desk
143 views

महाराष्ट्र  के नासिक में एक चौंकाने वाला मामला सामने आया है, जहां 4 मुस्लिम लोगों को मंदिर में जबरन घुसने के मामले में गिरफ्तार कर लिया गया है. यह मामला नासिक के प्रसिद्ध त्र्यंबकेश्वर मंदिर का है. इसके साथ ही मामले की जांच करने के लिए एक स्पेशल जांच टीम का गठन किया गया है. आरोपियों की पहचान आकिल युसूफ सैयद, सलमान अकिल सैयद, मतीन राजू सैयद और सालिम बख्शू सैयद के रूप में हुई है.

दरअसल, यह मामला 13 मई का है, जब नासिक के प्रसिद्ध त्र्यंबकेश्वर मंदिर में चार व्यक्ति मंदिर में जबरन घुस गए. ये लोग पहले संदल जुलूस का हिस्सा बने और उन्होंने शिवलिंग पर चादर चढ़ाने की कोशिश की. जिसके बाद उन्हें अंदर जाने से रोक दिया गया. बता दें कि प्रसिद्ध त्र्यंबकेश्वर मंदिर भगवान शिव के 12 ज्योतिर्लिंग में से एक है. इसी के साथ इस मंदिर में केवल हिंदुओं को जाने की इजाजत है. इन लोगों के घुसने के तुरंत बाद सिक्योरिटी गार्डस ने उन्हें अंदर जाने से रोक दिया.

मंदिर कमेटी ने पुलिस में शिकायत कराई दर्ज
चार मुस्लिम लोगों के जबरन घुसने को लेकर मंदिर कमेटी ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है. किसी ने इस पूरे मामले की वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर डाल दी, जिसके बाद यह वीडियो काफी वायरल हो रहा है. वहीं दूसरी ओर राज्य सरकार ने मामले को लेकर एसआईटी के गठन की बात कही है. इसको लेकर महाराष्ट्र के उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने ट्वीट किया है. उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने एसआईटी को जांच के आदेश दिए.

उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने महाराष्ट्र में कानून व्यवस्था बनाए रखने की बात कही. देवेंद्र फडणवीस ने ट्वीट करते हुए लिखा कि जो कोई भी महाराष्ट्र में कानून व्यवस्था को खतरे में डालेगा उसे बख्शा नहीं जाएगा. इसके साथ ही उन्होंने आगगे कहा कि यह सब जानबूझ कर किया गया है और इसे बिल्कुल भी बर्दाश्त नहीं किया जाएगा.

नासिक में 4 मुस्लिम लोगों के मंदिर में जबरन घुसने के बाद हिंदू संगठन मंदिर का शुद्धिकरण कर रहे हैं, जिसके बाद शिवसेना सांसद संजय राउत का  ने कहा कि त्रयंबकेश्वर मंदिर में जो हुआ है वो राजनीति है, सोची समझी रणनीति है. उन्होंने कहा कि मंदिर में जो हुआ है वो एक परंपरा है, 100 सालों से ऐसा होता आ रहा है. यहां चादर चढ़ाने की एक परंपरा है. वहीं दूसरी ओर मुस्लिम लोगों के घुसने के बाद हिंदू संगठन मंदिर के बाहर प्रदर्शन कर रहे हैं और वहां का शुद्धिकरण कर रहे हैं.

कड़ी कार्रवाई की हो रही मांग

त्र्यंबकेश्वर मंदिर में कई हिंदूवादी संगठन एक साथ इकट्ठा हुए हैं. सकल हिंदू समाज के नेतृत्व में हिंदूवादी संगठन मंदिर में हुई कथित घटना के मामले से जुड़े लोगों पर कड़ी कार्रवाई करने की मांग करेंगे. इस घटना के बाद अब त्र्यंबकेश्वर मंदिर में महाआरती की जाएगी. रअसल, 13 मई को मुस्लिम समाज के कुछ लोगों ने मंदिर में चादर चढ़ाने की कोशिश की थी, जिसके बाद विवाद खड़ा हो गया था.

Related Articles

Leave a Comment