Home हमारे लेखकनितिन त्रिपाठी उत्तर प्रदेश मे भाजपा का वर्चस्व

उत्तर प्रदेश मे भाजपा का वर्चस्व

by Nitin Tripathi
290 views
इस समय उत्तर प्रदेश मे भाजपा के लगभग 325 विधायक, 45 मंत्री, 67 जिला पंचायत अध्यक्ष, 62 सांसद, सैंकड़ों ब्लॉक प्रमुख हैं। सपा के 45 विधायक, 0 मंत्री, 4-5 जिला पंचायत अध्यक्ष, 5 सांसद हैं। इनमें भी अधिकतर अखिलेश भैय्या के परिवार के हैं। चुनाव का समय है। ढेरों लोग इधर से उधर जाएंगे। आंकड़ों के अनुसार भी चलेंगे तो भाजपा से दस उधर और सपा से एक दल बदलेगा।
बाकी जमीनी हकीकत यह भी कहती है कि ऐन चुनाव के व्यक्त जो दल बदलता है, बहुत कम ही जीत पाता है। उसकी वजह यह है कि एक तो जनता उसे मतलबी समझती है, आधों को समझ ही नहीं आता ये अब किस दल से आ गए। वह जिस पार्टी मे गया होता है, उसका कार्यकर्ता पाँच साल से किसी और के साथ लगा होता है, ऐन मौके पर यह आ गए टिकट इन्हे मिल गई तो कार्यकर्ता गद्दारी कर जाता है। वहीं दूसरी ओर यह जिस दल को छोड़ कर जाते हैं, उसका कार्यकर्ता व्यक्तिगत रंजिश मान लेता है कि अब कुछ भी हो जाए इन्हें हराना है।
बंगाल चुनाव मे भाजपा की हार का एक बड़ा कारण ऐन मौके पर दल बदल कर आए लोगों को टिकट देना रहा। ऐसे लोगों मे शायद ही कोई जीत पाया हो। जो भी इस समय दल बदल रहे हैं, लिख कर रखिएगा अधिसंख्य की राजनीति समाप्त है।

Related Articles

Leave a Comment