Home विषयमुद्दा हो गया कुश्ती जगत का विद्रोह शांत

हो गया कुश्ती जगत का विद्रोह शांत

by Ajit Singh
177 views
कुश्ती जगत का विद्रोह कल देर रात शांत हो गया ।
पहलवानों को जल्दी अक्ल आ गई ।
पीलवाण जी लोगों ने दरअसल ब्रज भूषण शरण सिंह को भी हरियाणा के खेल मंत्री संदीप सिंह समझ लिया था ।
विनेश फोगाट ने जैसे ही यौन उत्पीडन का आरोप लगाया , BBSS उल्टा चढ़ बैठे ।
उन्होंने अपनी पार्टी लीडरशिप से स्पष्ट बोल दिया ।
कोई इस्तीफा नही होगा ।
इनसे कहो , अगर इनके पास Evidence है तो थाने जा के FIR करें ।
जांच बेशक जिससे करा लो।
पूल्स से चाहे CBI से ……
BBSS ने पार्टी लीडरशिप से स्पष्ट कह दिया , इस्तीफा देने का मतलब होगा , आरोपों को स्वीकार करना ।
आपको करना है तो मुझे बर्खास्त कर दीजिए , WFI को suspend कर दीजिए।
इस्तीफा नही दूंगा ।
उधर पहलवानों ने सबसे बड़ी गलती ये कर दी कि इस प्रकरण में मोदी जी का नाम ले दिया ।
मोदी जी का नाम आते ही दूसरी बड़ी गलती Congress ने की कि वो सक्रिय हो मोदी मोदी चिल्लाने लगी ।
उसमे भी सुप्रिया श्रीनेत जैसी बदतमीज कर्कशा को आगे कर दिया ।
मोदी जी का नाम आते ही BJP डिफेंसिव हो गई और अब BBSS सिंह के साथ खड़ा होना उनकी मजबूरी हो गई।
पहलवानों से स्पष्ट कह दिया गया कि थाने जाओ।
FIR करो
थानेदार को evidence दिखाओ
कानूनी लड़ाई लड़ो
पहलवान जी लोग बिना तैयारी के ही कूद गए थे ।
बिना तैयारी के लड़ने का यही नतीजा निकलना था ।
Press के सामने एक एक शब्द तौल तौल के बोलना पड़ता है ।
मोदी का नाम ले के गलती कर दी ।
थाने जाने की न तो हिम्मत है , न इनके पास कोई evidence है
Evidence तो छोड़ो , इनके पास तो कोई Victim तक नही है ।
कोई महिला पहलवान सामने आ के FIR मुकदमा लिखाने को तैयार नहीं है ।
कल रात पीलवाण जी लोग धरना उठा के अपने घर गए ।
उधर BBSS के घर नंदिनी नगर अयोध्या में Open National चल रहा है ।
कल लड़कों की Free Style संपन्न हो गई
आज Greco Roman है
कल महिलाओं की कुश्ती होगी ।
कल ही BBSS ने कुश्ती संघ की AGM बोले तो Annual General Meeting बुला रखी है ।
हालांकि उससे होना जाना कुछ है नही ।
सभी राज्य कुश्ती संघ BBSS के साथ मजबूती से खड़े हैं।
AGM में ये प्रस्ताव पास होने की प्रबल संभावना है कि इन पहलवानों को अनुशासनहीनता का नोटिस जारी कर कुछ समय के लिए Suspend कर दें ।
पहलवानों ने गलत पंगा ले लिया
गलत आदमी से ले लिया
Below the belt वार नही करना चाहिए था ।
माना कि मोदी जी आपकी सुनते हैं ।
आपको गले लगाते है , पर इसका ये मतलब नहीं कि आप उनको भी अपनी लड़ाई में मोहरा बना दें ।

Related Articles

Leave a Comment