Home राजनीति भजप्पा एक लंबर पार्टी है

भजप्पा एक लंबर पार्टी है

Swami Vyalok

by Swami Vyalok
246 views

भजप्पा एक लंबर पार्टी है। विपक्ष में होती है, तो- यथा बंगाल- उसके काडर के जान पर बन आती है, वह अपने समर्थकों का जीना हराम करती है। किसी के साथ साझेदारी में सत्तासीन होती है- यथा बिहार- तो वहां अपना ऑफिस जलवा लेती है, मार खाती है। अगर गलती से सत्ता में आ गयी- यथा मोदीजीवा- तो रोल बैक करती रहती है।

वैसे, रास्ते के साथ (यानी, बाय द वे) मैं ये सोच रहा था कि 8 साल पहले टाइप पटरियों पर यत्र-तत्र-सर्वत्र गू का ढेर लगा रहता तो आज के प्रदर्शन-वीर डिप्स (पुशअप) कहां मारते? मने, हाथ आ मुंह में पूरा पखाना नै लसड़ा जाता…कम से कम इसी बात पर मोदीजीवा को अगली बार वोट दे देना भाई….वैसे भी मोदीजीवा को केवल वोट चाहिए…बाकी तो ऊ फकीर आदमी है

Related Articles

Leave a Comment