Home चलचित्र विभिन्न अवसरों पर कहे गए अल्फाजो और किये गए आचरणों को लेकर …….

विभिन्न अवसरों पर कहे गए अल्फाजो और किये गए आचरणों को लेकर …….

706 views

विभिन्न अवसरों पर कहे गए अल्फाजो और किये गए आचरणों को लेकर यहां समर्थकों से बड़ी उपहास पूर्ण, क्षुब्ध और हताशा भरी प्रीतिक्रिये होती रहती है। बहुत दिनों से इसके बारे में, मैं कुछ कहना चाहता था लेकिन बिना ज्यादा कुछ कहे, बहुत कुछ छिपाए, अपनी बात सामने रखने की दिशा नहीं मिल रही थी।  

इस दुविधा में था की एक हफ्ते पहले टीवी पर एक पहले की देखी हुयी फिल्म टकरा गयी और मुझे वह दिशा मिल गयी है। पता नहीं क्यों, मुझे फिल्मों में, उपन्यासों में या फिर इतिहास के पन्नो में कुछ ऐसा दिख जाता है जो मुझे अपनी उन बातो को कहने में मदद देती है जिन बातो को मैं सपाट और खुले शब्दों में नहीं कह पाता हूँ या फिर जान बूझ कर नहीं कहना चाहता हूँ।

अभी साल दो साल पहले मैंने हॉलीवुड की एक फिल्म Now You See Me देखी थी। यह एक थ्रिलर और सस्पेंस फिल्म है, जो आपको आखरी समय तक बाँध के रखती है। इस फिल्म के कथानक से मेरी बात का कोई भी लेना देना भी नहीं है लेकिन फिल्म के किरदार कुछ ऐसा जरूर बोलते है, जिसे मैं चाहूंगा की आप ठीक ठीक से समझ लीजिए। 

फिल्म की कहानी 4  जादूगरों की है जो एक से एक, असंभव से दिखने वाले जादू के करतब करते है। इन जादूगरों के करतबों के पीछे, आजमाई गयी तरकीबें और हाथ की सफाई का पर्दाफाश करने के लिए एक और जादूगर Thaddeus Bradley उनके पीछे लगा होता है,  जिसका काम ही नए नए जादुओं में इस्तमाल की गयी तकनीकियों का खुलासा करना होता है। जब ये 4 जादूगर सार्वजनिक रूप से जादू का खेल दिखाते हुए एक बैंक लूट लेते है तब पुलिस Thaddeus Bradley पर पहले शक करती है लेकिन फिर उस से इस केस को सुलझाने में मदद मांगती है। इसी बीच वो 4 जादूगर, भरे बाज़ार, एक  सार्वजनिक स्थल पर, अपना आखिरी जादू का शो दिखाने की घोषणा करते है और पुलिस और ब्रेडले भी उसी वही पहुँच जाते है। 

हज़ारो की भीड़ होती है और सभी की निगाहे, बिल्डिंग की छत पर खड़े उन 4 जादूगरों की तरफ होती है। जब पुलिस उनको वहीँ ही गिरफ्तार करना चाहती है तब ब्रेडले बोलता है,” अब जो आगे होने वाला है , वह कैसा भी भव्य करामात हो, लेकिन एक बात पक्की है की वह चकित कर देने वाला होगा. बड़े गौर से इसे देखो क्यूंकि तुम्हे जितना यह लगता है की तुम उसे करीब से देख रहे हो, तुम उतना ही उसे कम देख रहे होते हो.” ( Whatever is about to follow, whatever this grand trick is, is really going to amaze. Look closely, because the closer you think you are, the less you’ll actually see)

ब्रेडले आगे कहता है – जब जादूगर अपना हाथ हिलाता है और कहता है की ‘अब यहां करतब होगा’ तब असली करतब कही और हो रहा होता है. यह दुर्निदेश, ‘मिसडायरेक्शन’ होता है”( When a magician waves his hand and says, “This is where the magic is happening.” The real trick is happening somewhere else. Misdirection.) जितना आप लोग, समझते है की उसे आप समझ रहे है आप उतना ही उसे नहीं समझ रहे है. जो दिख रहा है, वहां कुछ नहीं हो रहा है, जो हो रहा है, वह कही और होना शुरू हो चूका है.

मैं इस लेख पर किये गए किसी भी कमेंट का जवाब नहीं दूंगा

#pushkerawasthi

Related Articles

Leave a Comment