Home चलचित्र दक्षिण भारत के लोगो के लिए रजनीकांत क्यों महान है

दक्षिण भारत के लोगो के लिए रजनीकांत क्यों महान है

by Nitin Tripathi
331 views

दक्षिण भारत के लोगो के लिए रजनीकांत क्यों महान है

 

रामेश्वरम से बंगलोर आते हुवे रास्ते में कार ख़राब हो गई. घनघोर गाँव में – हिंदी विरोधी गाँव में. रात का वक्त परिवार साथ में. ग्राम प्रधान से बात हुई इशारों से, उसने अपने लड़के को बलेरो में भेज दिया कि पास वाले टाउन तक पहुँचा देगा. पास के टाउन में भी क्या मिलना था. हमने लड़के को कंविंस किया कि वह हमें बंगलोर तक लिए चले. चूँकि वह दिन में सोया न था तो उसे गाड़ी चलाते हुवे झपकी आने लगी. नई समस्या. सालूशन निकला कि उससे बात करते रहो.
पर बात करें तो क्या. उसकी भाषा मुझे न समझ आती मेरी भाषा उसे नहीं. कालेज के समय डंब शेराड खूब खेला है तो ऐक्टिंग से पूँछा उसका फ़ेवरिट फ़िल्मी हीरो कौन. उसने बोला ठलाइवा अर्थात् रजनी कांत. फ़िर उसने ऐक्टिंग कर बताया, फ़िल्मी हीरो ही नहीं असल ज़िंदगी के हीरो हैं रजनी कांत. फ़िर पूरे रास्ते वह तमिल में मुझे समझाता रहा ठलाइवा क्यों महान हैं और हमारी तो जान अटकी थी तो हम मुंडी हिलाते रहे. पर थैंक्स to रजनीकांत, यह बंदा इतना इक्सायटेड हो गया कि तीन सौ किमी गाड़ी चला हमें बंगलोर ले आया रजनी के क़िस्से सुनाते.
साउथ में लोग इन फ़िल्मी ऐक्टर को भगवान मानते हैं. और क्यों न माने. रजनी कांत सफलता के चरम पर भी बिल्कुल आम आदमी की तरह रहते हैं. धर्म पालन करते हैं. हर फ़िल्म के पश्चात हिमालय जाते हैं योग करने. जनता की भलाई के लिए अरबो खर्च करते हैं. फ़िल्म फ़्लॉप होती है तो पैसा वापस कर देते हैं – सबका. इसी लिए साउथ में हीरो की छवि लार्जर than लाइफ़ है.
और बॉलीवुड के हीरो.. तीन तीन पद्म अवार्ड विजेता शाहरुख़ अजय देवगन अक्षय कुमार बेशर्मी से पान मसालों का विज्ञापन करते हैं. फ़िर मासूमियत से बोलते हैं उन्होंने बाबा इलायची का विज्ञापन किया था. संजय दत्त लखनऊ चुनाव लड़ने आए थे, पूरा समय खैनी रगड़ खाते पीकते रहे. अमिताभ बच्चन बूढ़े हो गए असिया गए लेकिन मोह माया ममता ऐसी कि रुपया स्वर्ग ले जाने के लिए कमला पसंद का विज्ञापन करते हैं. इन्हें रुपया मिल जाए तो यह लिंगरी के विज्ञापन में भी लिंगरी पहन नज़र आएँ.
और यह हवस किस लिए- कोई नहीं जानता. एक लेवल के पश्चात रुपया बहुत मायने नहीं रखता. समय था शाहरुख़ सुपर स्टार थे. लेकिन फिर वह मुसलमान बन गए और साथ ही रुपया कमाने के लिए नचनिये भांट बन गए. आज उनसे ज़्यादा वैल्यू विक्की कौशल की है.
बॉलीवुड ने लगातार बार बार जैसे खुद को एक्षपोज किया है और जैसे इसका डाउन्फ़ॉल सामने आया है इतनी बुरी तरह विश्व में कोई और जलील न हुआ होगा.

Related Articles

Leave a Comment