Home राजनीति बाबा का बुलडोज़र तैयार खड़ा है.

बाबा का बुलडोज़र तैयार खड़ा है.

by Nitin Tripathi
223 views
एक मित्र हैं, नेता हैं, बुजुर्ग हैं, थोड़ा लंगड़ा कर चलते हैं, जनता उन्हें लंगड़ नेता कह कर बुलाती है. बच्चे पत्थर फेंकते है यह कुढ़ते हैं पर दौड़ कर पकड़ नहीं सकते. जब भी मौसम में हवा का बदलाव होता है तो पुराने ज़ख़्म पीड़ा अलग देते हैं. बीबी पता नहीं थी या भाग गई, पर जब से देखा है अकेले ही कुढ़ते पाया है.
ऐसा नहीं कि नेता जी सदैव ऐसे थे. जवानी में टाल डार्क हैंसम थे. पर फ़िर एक बड़े नेता के आवाहन पर देश बचाने कूद पड़े. देश तो खैर वैसे ही चल रहा है पर पुलिस ने इन्हें इतना कूटा कि आज भी लंगड़ नेता के नाम से जाने जाते हैं.
10 तारीख़ को सपा की हार तय है सबको पता है. अखिलेश ने अपने समर्थकों का आवाहन किया है कि वह पोलिंग स्टेशन पर बवाल काटें. ज़ाहिर सी बात है होना हवाना कुछ नहीं, पर अभी UP पुलिस है जोगी बाबा की. इन गुंडों की जम कर ख़ातिर की जाएगी, मार्च में शिमला बना दिया जाएगा और इनमे ढेरों जिन्नगी भर कुंवारे ऐसे ही लंगड़ नेता के नाम से जाने जाएँगे.
यदि आप सपाई हैं और मित्र हैं- जिसकी सम्भावना कम ही है, तो भी मित्रवत् सलाह यही है कि पागलप्पन से बचिए. नहीं तो बाबा का बुलडोज़र तैयार खड़ा है.

Related Articles

Leave a Comment